जयपुर सहित कई इलाकों में काँपी धरती,भूकम्प के पांच झटके महसूस किए गए

दी तहलका
न्यूज़ ब्यूरो जयपुर
समय प्रात: 4 : 35 बजे / 21 जुलाई 2023.

राजस्थान के जयपुर में अल- सुबह अचानक से पलंग, पंखा, टेबल हिलने के बाद हुए अहसास से हड़कंप मच गया।भूकंप की जानकारी के लिए जब गूगल पर सर्च किया गया तब सुबह के 4:09 पर गूगल ने भूकंप की जानकारी दी।

नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक भूकंप का पहला कम्पन सुबह 4 बजकर 9 मिनट पर आया जिसके बाद लगातार 4 : 11 पर 2.5 फिर तीसरा 3.1 और चौथा 3.4 के बाद 2.5 के झटके महसूस किए गये।

 

रिएक्टर स्केल पर इसकी अधिकतम तीव्रता 4.4 रही। भूकंप की तीव्रता इतनी तेज थी की सुबह की सुहावनी नींद में सोए जिस भी व्यक्ति ने भूकंप के पहले झटके को महसूस किया और अपना बिस्तर छोड़ भागा, भूकंप इतना तेज था कि लोगों को विस्फोट जैसी आवाज सुनाई दी जिसके चलते उनकी बद- हवासी में नींद टूटी, कुल 23 मिनिट में तीन बार तेज़ झटके आने की वजह से लोग सहम गए और आसपास स्थित पार्क व खुले मैदानों और सडकों पर आ गए।

हालाकी, भूकंप के झटके का समय 2 सेकेंड से भी कम का था पर इसकी तीव्रता को महसूस किया जा सकता था। जिसकी वजह से लोग घरों से बाहर निकल आए।

जी एस आई के मुताबिक भूकंप का केंद्र 05 कि. मी. जयपुर की अरावली की पहाड़ियों में 10 कि.मी. साऊथ वेस्ट केन्द्रित जयपुर माना जा रहा है, फिलहाल भूकंप से किसी तरह के नुकसान की खबर नहीं हैं लेकिन जी एस आई का कहाना है कि हालांकी राजस्थान जोन 2 में शामिल है और यह सबसे कम खतरे वाला जोन है लेकिन आने वाले समय में भूकंप के और झटके देखने को मिल सकते हैं। क्योंकि अरावली पहाड़ों के नीचे दरारों मे जयपुर के आसपास 70 कि. मी. क्षेत्र में फैली दरारों में लगातार हलचाल से ऐनर्ज़ी पैदा हो रही है जो भूकंप का कारण बन सकती है।

क्या होता है भूकंप…..?

साधारण शब्दों में भूकंप का अर्थ पृथ्वी की कंपन होने की वज़ह से होता है। यह एक प्राकृतिक घटना है, जिसमें पृथ्वी के अंदर से ऊर्जा के निकलने के कारण तरंगें उत्पन्न होती हैं जो सभी दिशाओं में फैलकर पृथ्वी को कंपित करती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Right Menu Icon